3.4 C
Innichen
Monday, October 25, 2021

Controversial | Topics for debate

Must read

Controversial topics – 1

यहां श्रीमद् भागवत महापुराण के अष्टम स्कन्ध के बारहवें अध्याय के 24 से लेकर 34 श्लोक तक की एक कथा संक्षेप में है।

इस कथा के अनुसार एक बार भगवान शिव बहुत सुन्दर मोहिनी स्त्री को देखकर उसके ऊपर कामासक्त हो गए और उसे पकड़ने को दौड़े। वो उनसे बचकर भागती रही परन्तु शिव ने आखिरकार उसे पकड़ ही लिया और बाहों में भरकर अपने ह्रदय से लगा लिया। उस सुन्दर स्त्री ने स्वयं को शिव की पकड़ से छुड़ाने का असफल प्रयास किया। इस छीना-झपटी में उसके बाल बिखर गए तो शिव और कामोत्तेजित हो गए। तत्पश्चात शिव का वीर्य स्खलित हो गया। शिव का वीर्य पृथ्वी पर जहाँ-जहाँ गिरा वहां सोने-चांदी की खदाने बन गईं।

श्रीमद् भागवत महापुराण 8/12/24-34

इस कथा के अनुसार जो सोना-चांदी आप धारण करते हैं, वो वस्तुतः शिव का वीर्य है।

अब अगर आपको अपने भगवान की यह करतूत किसी स्त्री का सेक्सुअल हैरेसमेंट लग रहा है या फिर ये कथा ही अश्लील लग रही है। तो यहां नहीं बल्कि वेदव्यास जी को गाली दीजियेगा। क्योंकि उन्होने ही भागवत महापुराण की रचना की है। ये वही भागवत पुराण है जिसे आप बड़ी श्रद्धा से सप्ताह के 7 दिनों में सुनते हैं।

धर्मग्रन्थ इस प्रकार की बहुत सी अश्लील करतूतों और कथाओं से भरे पड़े हैं। और इन कथाओं को सुनकर यहां गाली देने का मतलब है कि आप अपने धर्म के शास्त्रकारों को गाली दे रहे हैं।

Controversial topics – 2

- Advertisement -

More articles

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

- Advertisement -

Latest article